What is Windhoek Declaration

0110,2023

विश्व प्रेस स्वतंत्रता सूचकांक हर वर्ष 3 मई  को जारी किया जाता है जिसका आधार 1991 मे विंडहोक घोषणा है इसलिए इसके बारे में जानना जरुरी है कि यह क्या है।

 
 प्रेस की स्वतंत्रता , जिम्मेदारियों और महत्व बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए हर साल 3 मई को विश्व प्रेस स्वतंत्रता दिवस के रूप में मनाया जाता है। इसे दिसंबर 1993 में संयुक्त राष्ट्र महासभा द्वारा घोषित किया गया था और तब से, विंडहोक घोषणा की वर्षगांठ को विश्व प्रेस स्वतंत्रता दिवस के रुप मे मनाया जाता है।
 
नामीबिया की राजधानी विंडहोक मे 29 अप्रैल से 3 मई तक प्रेस की स्वतंत्रता को लेकर कई बिंदु सामने आये विंडहोक सेमिनार के दौरान, निजी अफ्रीकी समाचार पत्रों ने सूचना आदान-प्रदान में सहायता करने के साथ-साथ पत्रकार आदान-प्रदान के माध्यम से अनुभव साझा करने के लिए सहयोग करने का निर्णय लिया। उन्होंने पत्रकारों, प्रबंधकों और तकनीकी कर्मियों के लिए प्रशिक्षण पाठ्यक्रम और अध्ययन यात्राएं आयोजित करने का भी निर्णय लिया।
 

 इस सेमिनार मे इसके अलावा प्रकाशकों, समाचार संपादकों और पत्रकारों के लिए क्षेत्रीय और राष्ट्रीय यूनियनों का निर्माण शामिल था; पत्रकारिता की रक्षा और विश्वसनीयता सुनिश्चित करने के लिए गैर-सरकारी नियमों और आचार संहिता का विकास इत्यादि शामिल था।।सेमिनार के आखिरी दिन 3 मई को विंडहोक घोषणा को अपनाया गया। इसमें "स्वतंत्र, बहुलवादी और स्वतंत्र प्रेस" से संबंधित 19 सिद्धांत शामिल थे। बाद में, 1993 में, 3 मई को संयुक्त राष्ट्र द्वारा विश्व प्रेस स्वतंत्रता दिवस के रूप में घोषित किया गया

यह घोषणा मानव अधिकारों की सार्वभौम घोषणा के  अनुच्छेद  19 पर आधारित है, जो राय और अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के अधिकार से संबंधित है।

· विंडहोक घोषणा के अनुसार, लोकतंत्र के साथ-साथ आर्थिक विकास के लिए स्वतंत्र प्रेस आवश्यक है। यह अफ्रीकी देशों में पत्रकारों, संपादकों और प्रकाशकों के उत्पीड़न के बारे में भी बात करता है, संयुक्त राष्ट्र से प्रेस सेंसरशिप को मानवाधिकारों के उल्लंघन के रूप में पहचानने का आग्रह करता है

12:10 pm | Admin


Comments


Recommend

Jd civils,Chhattisgarh, current affairs ,cgpsc preparation ,Current affairs in Hindi ,Online exam for cgpsc

When Shashtri ji asked people to do one time fast in a week

जब शास्त्री जी के कहने पर लाखों लोगों ने एक वक्त का खाना छोड़ दिया भारत -पाकिस्तान 1965 की लड़ाई के दौरान अमरीकी राष्ट्रपति लिंडन जॉन्सन ...

0
Jd civils,Chhattisgarh, current affairs ,cgpsc preparation ,Current affairs in Hindi ,Online exam for cgpsc

CONCEPT OF STATE PART 2

ON THE BASIS OF CONSITUTIONAL ASPACT

भारतीय संविधान में राज्य की अवधारणा ⇒दोस्तों पिछली  पोस्ट  में हमने संपूर्ण राजनीति विज्ञान(Entire political science) के स्तर पर राज्य की अव...

0

Subscribe to our newsletter