Agricultural Revolution of India

0510,2023

स्वतंत्रता के बाद भारत खाद्यान्न के संकट से गुजर रहा था ,भारत एक कृषि प्रधान देश रहा है भारत की बढ़ती आबादी के हिसाब से कृषि उत्पादन नही बढ़ रहा था ऐसे मे जरुरत थी क्रांति की ताकि उत्पादन बढ़ाया जा सके ,ऐसे मे तकनीक की वजह से विभिन्न क्षेत्रों में क्रांति आई ।।विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए बहुत महत्वपूर्ण है इसे ध्यान से पढ़ें

1. हरित क्रांति (Green Revolution)::::---खाद्यान्न उत्पादन से सम्बंधित थी इसके कारण गेहूं और धान की पैदावार में अच्छी बृद्धि हुई थी |

2. श्वेत क्रांति(white Revolution ):::--यह  दुग्ध उत्पादन से सम्बंधित है इसकी शुरुआत 1964-65 हुई जिसे आगे ‘ऑपरेशन फ्लड’ कहा गया |

3. पीली क्रांति (yellow Revolution):::::---खाद्य तेलों और तिलहन फसलों के उत्पादन को बढ़ाने से संबंधित है।।

4. नीली क्रांति (Blue Revolution):::-- मत्स्य उत्पादन में बृद्धि के लिए चलाई गयी थी || भारत विश्व का दूसरा सबसे बड़ा मछली उत्पादक देश बन गया है |

5.  गुलाबी क्रांति (Pink Revolution):::---यह प्याज और झींगा मछली के उत्पादन से सम्बंधित है |भारत विश्व का सबसे बड़ा झींगा मछली उत्पादक देश बन गया है|

6.  काली क्रांति (Black Revolution)::::----पेट्रोलियम/खनिज तेलों के उत्पादन को बढ़ाने के लिए एथेनोल का उत्पादन भी बढाया जायेगा| इसका सम्बन्ध कोयला उत्पादन से भी है

7.  धूसर क्रांति (Grey Revolution)::::---उर्वरक उत्पादन में बृद्धि से संबंधित।।।

8.  रजत क्रांति (Silver Revolution)भारत में अंडा उत्पादन और मुर्गियों की उत्पादकता बढ़ाने के लिए यह चलाया गया था।। आंध्र प्रदेश सबसे बड़ा उत्पादक है |

9.  सुनहरी क्रांति (Golden Revolution)::::---इसका सम्बन्ध बागवानी उत्पादन में बृद्धि से है जिसमे फल विशेषकर सेव उत्पादन| इसे शहद उत्पादन से भी जोड़ा जाता है| भारत सब्जी और फल उत्पादन में विश्व मे दूसरा स्थान रखता है |

10. इन्द्रधनुषी क्रांति:::::----इसमें हरित, पीली, नीली, लाल, गुलाबी, भूरी, धूसर और अन्य सभी क्रांतियों को साथ लेकर चलने का लक्ष्य है |जुलाई 2000 में नयी कृषि नीति को लागू किया गया है इसी को इन्द्रधनुषी क्रांति कहा गया है |

11. सदाबहार क्रांति :::-इसका उद्येश्य देश की मिट्टी को उन्नत बनाना, किसानों को लोन दिलाना, रेन वाटर हार्वेस्टिंग एवं कृषि शोध को बढ़ाना है

12. गोल क्रांति (Round Revolution)):::--इसका सम्बन्ध देश में आलू के उत्पादन को बढ़ाना है |भारत, चीन के बाद विश्व का दूसरा सबसे बड़ा आलू उत्पादक देश है|

फ्री टेस्ट जॉइन करने के लिए Apex Bank Test Series
भारत में विभिन्न क्रांतियों के जनक इस प्रकार हैं"
◆. भारत में हरित क्रांति का जनक: M.S. स्वामीनाथन
◆. भारत में नीली क्रांति जनक: अरुण कृष्णन
◆. भारत में श्वेत क्रांति का जनक: डॉ वर्गीज कुरियन
◆भारत में प्रेरित प्रजनन (induced breeding) क्रांति का जनक: हीरा लाल चौधरी
◆ भारत में गुलाबी क्रांति का जनक: दुर्गेश पटेल
◆भारत में स्वर्णिम क्रांति का जनक: निर्पख तुतेज
◆ भारत में लाल क्रांति का जनक: विशाल तिवारी
◆. भारत में सिल्वर क्रांति का जनक: इंदिरा गाँधी

PUBLISHED BY DESHRAJ AGRRAWAL

11:42 am | Admin


Comments


Recommend

Jd civils,Chhattisgarh, current affairs ,cgpsc preparation ,Current affairs in Hindi ,Online exam for cgpsc

CHHATTISGARH CURRENT AFFAIRS

SPORTS

छत्तीसगढ़ में खेल से सम्बंधित करेंट अफेयर्स  1. 2nd छत्तीसगढ़िया ओलंपिक्स 2023  •आयोजन - 17 जुलाई(हरेली के दिन से प्रारंभ) से 27 सितम्बर...

0
Jd civils,Chhattisgarh, current affairs ,cgpsc preparation ,Current affairs in Hindi ,Online exam for cgpsc

Celebrating National legal Services day

Current Affairs ,Legal Service Day

◆राष्ट्रीय कानूनी सेवा दिवस(National legal service day ) हर साल 9 नवंबर को  मनाया  जाता है कानूनी सेवा प्राधिकरण अधिनियम, 1987 की शुरुआत के उपलक्ष्य में...

0

Subscribe to our newsletter