JEE Mains 2024 Syllabus Updates

0311,2023

 JEE Main 2024 Syllabus Updates

संयुक्त प्रवेश परीक्षा (जेईई) मेन भारत में सबसे प्रतिष्ठित इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षाओं में से एक है। इच्छुक छात्र इस परीक्षा को पास करने और प्रतिष्ठित इंजीनियरिंग कॉलेजों में प्रवेश पाने के लिए कड़ी तैयारी करते हैं। हालाँकि, प्रभावी तैयारी के लिए जेईई मेन पाठ्यक्रम से अपडेट रहना महत्वपूर्ण है।

 JEE Main 2024 Syllabus Updates

Introduction to JEE Main 2024 Syllabus

नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) जेईई मेन परीक्षा आयोजित करने और पाठ्यक्रम जारी करने के लिए जिम्मेदार है। जेईई मेन 2024 पाठ्यक्रम में पिछले वर्षों की तुलना में कुछ मामूली बदलाव होने की उम्मीद है। ये परिवर्तन अक्सर कक्षा 11 और 12 के लिए एनसीईआरटी पाठ्यक्रम में किए गए अपडेट के साथ संरेखित होते हैं।

 

Changes in JEE Main 2024 Syllabus

 

  • गणित: गणितीय प्रेरण और गणितीय तर्क के विषयों को गणित पाठ्यक्रम से हटा दिया गया है। परीक्षा की तैयारी के दौरान छात्रों को इन चूकों के बारे में पता होना जरूरी है।

  • भौतिकी: संचार प्रणाली मॉड्यूल को भौतिकी पाठ्यक्रम से हटा दिया गया है। छात्रों को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि वे अपनी तैयारी पर प्रभावी ढंग से ध्यान केंद्रित करने के लिए संशोधित पाठ्यक्रम से अपडेट रहें।
  • रसायन विज्ञान: रसायन विज्ञान पाठ्यक्रम से कई अध्याय हटा दिए गए हैं, जिनमें अल्कोहल फिनोल और ईथर, सतह रसायन विज्ञान, पदार्थ की स्थिति, सामान्य सिद्धांत और धातुओं के अलगाव की प्रक्रियाएं, एस-ब्लॉक तत्व, हाइड्रोजन, पर्यावरण रसायन विज्ञान और पॉलिमर शामिल हैं। उम्मीदवारों को तदनुसार अपनी अध्ययन योजना को सुव्यवस्थित करने के लिए इन बहिष्करणों के बारे में पता होना चाहिए।

JEE Main 2024 Syllabus: Subject-wise Breakdown

Mathematics Syllabus

जेईई मेन 2024 के लिए गणित का पाठ्यक्रम मुख्य रूप से एनसीईआरटी कक्षा 11 और 12 के पाठ्यक्रम पर आधारित है। ध्यान केंद्रित करने योग्य कुछ महत्वपूर्ण विषयों में शामिल हैं:

  • सेट और फ़ंक्शंस: सेट, संबंधों और फ़ंक्शंस की अवधारणाओं को समझना।
  • बीजगणित: जटिल संख्याओं, क्रमपरिवर्तन और संयोजन, और द्विपद प्रमेय की खोज।
  • समन्वय ज्यामिति: सीधी रेखाओं, शंक्वाकार खंडों और त्रि-आयामी ज्यामिति का अध्ययन।
  • कैलकुलस: सीमा और व्युत्पन्न, गणितीय तर्क, और सांख्यिकी और संभाव्यता को कवर करना।

Physics Syllabus

जेईई मेन 2024 के लिए भौतिकी पाठ्यक्रम में विभिन्न आवश्यक विषय शामिल हैं। ध्यान केंद्रित करने वाले कुछ प्रमुख क्षेत्रों में शामिल हैं:

  • यांत्रिकी: गति, गति के नियम और घूर्णी गतिशीलता को समझना।
  • थर्मोडायनामिक्स: गर्मी, तापमान और थर्मोडायनामिक प्रक्रियाओं का अध्ययन।
  • प्रकाशिकी: प्रकाश के व्यवहार और पदार्थ के साथ उसकी अंतःक्रिया का अन्वेषण करना।
  • आधुनिक भौतिकी: क्वांटम यांत्रिकी, परमाणु संरचना और परमाणु भौतिकी जैसे विषयों को कवर करता है।

 Chemistry Syllabus

जेईई मेन 2024 के लिए रसायन विज्ञान पाठ्यक्रम को तीन प्रमुख वर्गों में विभाजित किया गया है: भौतिक रसायन विज्ञान, अकार्बनिक रसायन विज्ञान और कार्बनिक रसायन विज्ञान। ध्यान केंद्रित करने योग्य कुछ महत्वपूर्ण विषयों में शामिल हैं:

  • रासायनिक बंधन और आणविक संरचना: विभिन्न प्रकार के रासायनिक बंधन और आणविक संरचनाओं को समझना।
  • संतुलन: रासायनिक संतुलन और आयनिक संतुलन सहित संतुलन की अवधारणा की खोज करना।
  • कार्बनिक रसायन विज्ञान: हाइड्रोकार्बन, कार्बनिक यौगिक और बायोमोलेक्यूल्स जैसे विषयों को कवर करता है।
  • अकार्बनिक रसायन विज्ञान: तत्वों के वर्गीकरण, आवधिकता और समन्वय यौगिकों का अध्ययन।

JEE Main 2024 Syllabus: Subject-wise Breakdown

JEE Main 2024 Exam Pattern and Weightage

जेईई मेन 2024 परीक्षा दो सत्रों में आयोजित की जाती है: जनवरी और अप्रैल। जेईई मेन पेपर 1 (बी.ई./बी.टेक) के परीक्षा पैटर्न में तीन विषय शामिल हैं: भौतिकी, रसायन विज्ञान और गणित। परीक्षा के लिए अधिकतम अंक 300 हैं, जिसमें कुल 90 प्रश्न हैं।


परीक्षा पैटर्न में बहुविकल्पीय प्रश्न (एमसीक्यू) और संख्यात्मक प्रश्न शामिल हैं। प्रत्येक सही उत्तर पर +4 अंक का वेटेज होता है, जबकि गलत उत्तर पर -1 अंक की कटौती होती है। उम्मीदवारों के लिए अपनी तैयारी की योजना बनाने के लिए परीक्षा पैटर्न से परिचित होना महत्वपूर्ण है।

 

How to Prepare for JEE Main 2024 with the Revised Syllabus

scc syllabus के लिए यहाँ click करे

जेईई मेन 2024 पाठ्यक्रम में संभावित बदलावों को देखते हुए, इच्छुक उम्मीदवारों के लिए अपनी तैयारी रणनीतियों को तदनुसार अनुकूलित करना महत्वपूर्ण है। प्रभावी ढंग से तैयारी करने के लिए यहां कुछ सुझाव दिए गए हैं:

  • अपडेट रहें: जेईई मेन पाठ्यक्रम के संबंध में किसी भी अपडेट या घोषणा के लिए नियमित रूप से आधिकारिक एनटीए वेबसाइट देखें।
  • संशोधित एनसीईआरटी पाठ्यपुस्तकों का संदर्भ लें: संशोधित पाठ्यक्रम को प्रभावी ढंग से कवर करने के लिए नई एनसीईआरटी पुस्तकों का उपयोग करें और सुनिश्चित करें कि आप प्रासंगिक विषयों का अध्ययन कर रहे हैं।
  • पिछले वर्ष के प्रश्नपत्रों का अभ्यास करें: परीक्षा पैटर्न से परिचित होने और विभिन्न प्रकार के प्रश्नों को हल करने में आत्मविश्वास हासिल करने के लिए पिछले वर्ष के प्रश्नपत्रों को हल करें।
  • मार्गदर्शन लें: संशोधित पाठ्यक्रम और परीक्षा पैटर्न की बेहतर समझ प्राप्त करने के लिए कोचिंग कक्षाओं में शामिल होने या अनुभवी सलाहकारों से मार्गदर्शन लेने पर विचार करें।
  • एक अध्ययन योजना बनाएं: एक व्यापक अध्ययन योजना विकसित करें जिसमें संशोधित पाठ्यक्रम के सभी विषयों को शामिल किया गया हो। प्रत्येक विषय को उसके महत्व और अपनी ताकत और कमजोरियों के आधार पर समय आवंटित करें।

JEE Main 2024 Syllabus Updates

Conclusion

परीक्षा की प्रभावी ढंग से तैयारी करने के लिए उम्मीदवारों के लिए जेईई मेन 2024 पाठ्यक्रम के साथ अपडेट रहना महत्वपूर्ण है। पाठ्यक्रम में संभावित बदलावों के साथ, अपनी अध्ययन योजना को अनुकूलित करना और संशोधित विषयों पर ध्यान केंद्रित करना महत्वपूर्ण है। ऊपर बताए गए सुझावों का पालन करके और लगातार प्रयास और कड़ी मेहनत करके, आप जेईई मेन परीक्षा में सफलता की संभावना बढ़ा सकते हैं।

12:20 pm | Admin


Comments


Recommend

Jd civils,Chhattisgarh, current affairs ,cgpsc preparation ,Current affairs in Hindi ,Online exam for cgpsc

Current Affairs 2023,Grand Slam Winner 2023

Australian open ,French open ,Wimbledon ,Us open

करेंट अफेयर्स प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए बहुत महत्वपूर्ण है इसमे.केटेगरी फिल्टर में जाकर विषय वार आप टॉपिक देख सकते.हैं इसमे.हम बात ...

0
Jd civils,Chhattisgarh, current affairs ,cgpsc preparation ,Current affairs in Hindi ,Online exam for cgpsc

G20 2023 Summit G20 Is Now G21 ,Delhi Summit is now most Aspirational Summit of G20 ,Delhi Declaration adopted

G20,G21, African Union ,Delhi Declaration

G20 का 18वां सम्मेलन दिल्ली मे 10 सितंबर को समाप्त हुआ ,यह सम्मेलन कई मायनों मे सफल रहा ,सम्मेलन मे जहां रुस व चीन की मुद्दे पर असहमति दिख रही...

0

Subscribe to our newsletter