Interpretation of constitution

0411,2023

       संविधान का निर्वचन

  भाग(Part)  : -  संविधान के एक प्रकार के प्रावधानों को एक स्थान पर संग्रहित किया जाता है

  • जैसेः –  भाग-3 मूल अधिकार
  • कुल 22 भाग है तथा संसोधित भाग की गणना की जाये तो कुल 25 भाग हो जाते है |

     अध्याय (Chapter) : -  बड़े भागो को छोटे अध्यायों में बांटा जाता है, सभी भागों में अध्याय नहीं है|

  • जैसे: -  भाग-5 संघ सरकार में अध्याय है

*राष्ट्रपति

*उपराष्ट्रपति

*प्रधानमंत्री

   अनुच्छेद (Article) : -  प्रावधानों को क्रम में व्यवस्थित करने के लिए  अध्यायों को अनुच्छेद में बांटा जाता है या भागों को सीधे अनुच्छेद में बांटा जा सकता है|

  • जैसे : - भाग- 1 में अनुछेद 1 ,2  3 , 4 तक
  • कुल 395 अनुच्छेद है

 परन्तुक (Clause) : -  बड़े अनुच्छेदों को परन्तुक में बांटा जाता है| इसे कोष्ठक के रूप में लिखा जाता है|

  • जैसे : -  अनुच्छेद  39(a) – रोजी रोटी के साधन 
  •        अनुच्छेद 39(b)

 उप – परन्तुक ( Sub clause) : बहुत बड़े अनुच्छेदों के प्रावधानों को सरल करने के लिए उप परंतुक में बांटा जाता है |

  • जैसे : -  अनुच्छेद 19(1)(a)

 अनुसूचियां (Schedules) : संविधान के अंत में दी गयी विषयों की वह सूची है, जो संविधान के किसी प्रावधान की व्याख्या करती है |

  • जैसे : -   अनुच्छेद -1 भारत राज्यों का संघ होगा |
  • अनुसूची -1 में राज्यों की सूची है
  • मूल संविधान में 8 अनुसूची थी|
  • वर्तमान में संविधान में कुल 12 अनुसूचियां है|

02:01 am | Admin


Comments


Recommend

Jd civils,Chhattisgarh, current affairs ,cgpsc preparation ,Current affairs in Hindi ,Online exam for cgpsc

CGPSC Best Books for Hindi Medium : A Comprehensive Guide

CGPSC Best Books for Hindi Medium : A Comprehensive Guide

CGPSC Best Books for Hindi Medium : A Comprehensive Guide क्या आप CGPSC EXAM सीजीपीएससी परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं और अपनी तैयारी को बेहतर बनाने के लिए best books For Cgpsc की तलाश कर रहे...

0
Jd civils,Chhattisgarh, current affairs ,cgpsc preparation ,Current affairs in Hindi ,Online exam for cgpsc

Major Dhyanchand Jayanti ,Magician of Hockey

Major-dhyan-chand-jayanti 2023

Major Dhyachand jayanti 2023 29 अगस्त 1905 को जन्मे मेजर ध्यानचंद भारतीय खेलों के इतिहास में सिर्फ एक नाम नहीं थे; वह एक किंवदंती, एक प्रतीक और फील्ड हॉकी की...

0

Subscribe to our newsletter