Basic terminology of economic part 6

2211,2023

अर्थव्यवस्था के संबंध में महत्वपूर्ण शब्दावली

दोस्तों भारत की अर्थव्यवस्था में ज्यादातर शब्दों के मिनिंग से प्रश्न पूछा जाता हैयदि आपको शब्द का अर्थ पता है तो आगे के टॉपिक में कोई परेशानी नहीं होगी|

  1.  पूँजी उत्पाद अनुपात (capital output ratio)
  2.   कर(Tax), शुल्क(Duty) एवं फीस(Fees) में अंतर

⇒दोस्तों अब हम पूँजी उत्पद अनुपत को समझेंगे, लेकिन इसको समझने से पहले हम समझेंगे की पूँजी क्या होता है|

  1. पूँजी( Capital) : - मानव द्वारा निर्मित हर वस्तु, जो उत्पादन में सहयोगी हो, किन्तु उत्पादन के दौरान नष्ट न हो|
  • पूँजी का हरास होता है |
  • जैसे : -  जमीन, मकान, मशीन, कंपनी, सड़क, बंदरगाह, रेलवे, प्लांट, विदेशी मुद्रा आदि|
  1. पूँजी निर्माण ( Capital Formation) : -  पूँजी निर्माण का तात्पर्य है कि पूँजी की मात्रा में वृद्धि होना |
  • बचत ज्यादा होगा तो निवेश ज्यादा होगा जिससे औद्योगीकरण ज्यादा परिणामतः पूँजी का निर्माण ज्यादा होगा |
  • बचत कम होगा तो निवेश कम होगा जिससे औद्योगीकरण कम परिणामतः पूँजी का निर्माण कम होगा |
  1. निवेश और खर्च में अंतर –
    1. निवेश( Investment) : -  पैसा लगाना जिससे उत्पादन में वृद्धि हो तथा लाभ की प्राप्ति हो |

    जैसे : - पशुपालन, कृषि, व्यापार आदि |

    1. खर्च ( Expanditure) : - पैसे लगाना, किन्तु कोई लाभ की प्राप्ति नही होती हो |

   जैसे : - कपड़े खरीदना, चाय पीना आदि |

  1. पूँजी उत्पाद अनुपात ( capital output ratio) : -  इसका अर्थ है उत्पादन में लगने वाली पूँजी एवं उसका अनुपात |
  • पूँजी उत्पाद अनुपात अर्थव्यवस्था में पूँजी के निवेश से होने वाली आर्थिक वृद्धि दर को मापने की एक तकनीक है |
  • पूँजी उत्पाद अनुपात अर्थव्यवस्था में किए जाने वाले निवेश और इस निवेश परिणामस्वरूप उत्पन्न होने वाली वार्षिक आय के बीच एक संबंध होता
  • पूँजी उत्पाद अनुपात 2 प्रकार के होते है –
  1. औसत पूँजी उत्पाद अनुपत( ACOR)
  2. वृद्धितर पूँजी उत्पाद अनुपात( ICOR)
  3. औसत पूँजी उत्पाद अनुपात ( Average capital output ratio) : - इसका अर्थ है कुल उत्पादन एवं  उसमे लगने वाली कुल पूँजी का अनुपात |

उदाहरण के लिए भारत की अर्थव्यवस्था में वर्ष 2022-23 में कुल 1,000 करोड़ का निवेश किया गया और इससे कुल उत्पादन 200 करोड़ रु. का प्राप्त हुआ तो औसत पूँजी उत्पाद अनुपात होगा 5 : 1

  1. वृद्धितर पूँजी उत्पाद अनुपत ( Increamental capital output ratio) : - अतिरिक्त इकाई के उत्पादन में लगने वाली अतरिक्त पूँजी एवं उसका अनुपात |

उदाहरण से स्पष्ट किया जा सकता है। मान लीजिए वर्ष 2022-23 में पूँजी निवेश 1,000 रोड़ से बढ़कर 1,200 करोड़ हो गया और उत्पादन का मूल्य बढ़कर 250 करोड़ हो गया। ऐसी स्थिति वृद्धितर पूँजी उत्पाद अनुपात होगा।

    ⇒  पूँजी उत्पाद अनुपात का अर्थव्यवस्था पर प्रभाव : -

  • पूँजी उत्पाद अनुपत ज्यादा तो उत्पादन लागत ज्यादा होगा परिणामतः उत्पाद महंगा होगा |
  • पूँजी उत्पाद अनुपात ज्यादा होगा तो निर्यात महंगा होगा जिससे विश्व बाजार मांग कम परिणामतः निर्यात कम हो जायेगा |
  • पूँजी उत्पाद अनुपात ज्यादा होगा तो कंपनी को उत्पादन कम करना होगा जिससे रोजगार का सृजन कम परिणामतः बेरोजगारी में वृद्धि |
  • पूँजी उत्पाद अनुपात ज्यादा होगा तो बेरोजगारी में वृद्धि परिणामतः गरीबी में वृद्धि |
  • पूँजी उत्पाद अनुपात ज्यादा होगा तो उत्पाद की मांग कम जिससे आर्थिक संवृद्धि में गिरावट परिणामतः अर्थव्यवस्था का आकार सिमित होता जायेगा |

 

 

 

02:51 am | Admin


Comments


Recommend

Jd civils,Chhattisgarh, current affairs ,cgpsc preparation ,Current affairs in Hindi ,Online exam for cgpsc

CHHATTISGARH Assembly Elections 2023 PART 3

cg current affairs

CHHATTISGARH Assembly Elections 2023 1. वे लोकसभा सदस्य जो निर्वाचन में भाग लिए  लोक सभा सदस्य विधानसभा 1.श्री अरुण साव (Bilapur) लोरमी (जीत) 2.&...

0
Jd civils,Chhattisgarh, current affairs ,cgpsc preparation ,Current affairs in Hindi ,Online exam for cgpsc

Pradhanmantri School for Rising India launched in Chhattisgarh

Current affairs in hindi 2023

छत्तीसगढ़ में पीएम श्री (प्रधानमंत्री स्कूल फॉर राईजिंग इंडिया) योजना का हुआ शुभारंभ। योजना के तहत शामिल स्कूलों को बड़े शहरों और व...

0

Subscribe to our newsletter