Chhattisgarhi Official Language Day

2811,2023

         छत्तीसगढ़ी राजभाषा दिवस 

⇒छत्तीसगढ़ी को राज्य की राजभाषा का दर्जा प्रदान कर छत्तीसगढ़ी के प्रचलन, विकास एवं राजकाज में उपयोग हेतु समस्त उपाय करने के उद्देश्य से राज्य सरकार द्वारा 'छत्तीसगढ़ी राजभाषा आयोग' की स्थापना की गई है।

कब बना छत्तीसगढ़ राजभाषा  विधेयक : -  छत्तीसगढ़ राजभाषा आयोग  विधेयक को 28 नवंबर 2007 को पारित किया गया था। विधेयक के पास होने के उपलक्ष्य में हर साल 28 नवंबर को राजभाषा दिवस के रूप में मनाया जाता है। इस राजभाषा का प्रकाशन 11 जुलाई 2008 को राजपत्र में किया गया। इस आयोग का कार्य 14 अगस्त 2008 से चालू हुआ। आयोग के प्रथम सचिव पद्मश्री डॉ सुरेंद्र दुबे थे।

छत्तीसगढ़ राजभाषा आयोग का उद्देश्य : -

• राजभाषा को संविधान की आठवीं अनुसूची में दर्जा दिलाना।

• छत्तीसगढ़ी भाषा को राजकाज की भाषा के उपयोग में लाना।

• त्रिभाषायी भाषा रूप में शामिल पाठ्यक्रम में शामिल करना।
 

⇒छत्तीसगढ़ के वरिष्ठ साहित्यकारों को उनकी छत्तीसगढ़ी साहित्य के प्रति सेवा हेतु 'छत्तीसगढ़ी राजभाषा आयोग सम्मान 2010' से सम्मानित किया गया।


छत्तीसगढ़ राजभाषा आयोग से सम्बंधित योजनाएं : - 

• माई कोठी योजना : -  छत्तीसगढ़ी से संबंधित किसी भी भाषा के पुस्तकों का क्रय कर संग्रहीत करने हेतु ।

• बिजहा योजना : -  छत्तीसगढ़ी भाषा के लुप्त होते शब्दों को संग्रहीत कर पुनः प्रचलन में लाने हेतु ।

• छत्तीसगढ़ी और सरगुजिहा के बीच अंतरसंबंध विषय पर अंबिकापुर मे संगोष्ठी का आयोजन किया गया।

आठवीं अनुसूची में शामिल भाषाओं को कुछ विशिष्ट महत्व प्राप्त हैं जैसे : -

• भारत सरकार की यह जिम्मेदारी है कि वह इन भाषाओं के विकास में योगदान दे ताकि इनका उन्नयन हो और वे आधुनिक ज्ञान के संचार का प्रभावी माध्यम बन सकें।

• लोक सेवाओं के लिए आयोजित प्रतियोगी परीक्षाओं में इन भाषाओं को उत्तर लेखन का माध्यम बनाया जा सकता है।

• हिन्दी का प्रसार बढ़ाने और इसे सामासिक संस्कृति के तत्वों की अभिव्यक्ति का माध्यम बनाने के लिए हिन्दुस्तानी और आठवीं अनुसूची में वर्णित भाषाओं में प्रयुक्त रूप, शैली और पदों (Forms, Style and expressions) को आत्मसात किया जाएगा। (Article351)

• राजभाषा आयोग में आठवीं अनुसूची में वर्णित भाषाओं के प्रतिनिधि सदस्य के रूप में नियुक्त किए जायेंगे । (Article 344)

 

 

03:43 am | Admin


Comments


Recommend

Jd civils,Chhattisgarh, current affairs ,cgpsc preparation ,Current affairs in Hindi ,Online exam for cgpsc

Indus Valley Civilization PART 2

indian history

सिन्धु घाटी सभ्यता  राजनीतिक जीवन : - ⇒लगभग 13 लाख वर्ग किमी में फैली हड़प्पा सभ्यता 700 वर्षों तक निरंतर कायम रही। इस तथ्य से यह स्प...

0
Jd civils,Chhattisgarh, current affairs ,cgpsc preparation ,Current affairs in Hindi ,Online exam for cgpsc

Bharat Ratna Maulana Abul Kalam Azad, the country's first education minister.

history

मौलाना अबुल कलाम आज़ाद जन्म 11 नवंबर, 1888 (मक्का, सऊदी अरब) मृत्यु 22 फरवरी, 1958 मूल नाम अबुल कलाम मोहिउद्दीन अहमद आज़ाद ...

1

Subscribe to our newsletter