2nd spaceport of India

0709,2023

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन ने अपने दूसरे अंतरिक्ष कंद्र के लिए जमीन अधिग्रहण कर लिया है अब श्रीहरिकोटा के साथ यहां से भी रॉकेट लॉंच किया जा सकेगा। इसके लिए तमिलनाडु के कुलसेकरपटिनम  मे तैयारी की गई है यह SSLV (Small Satelite Launch vehicle ) के लिए उपयुक्त होगा।

श्रीहरिकोटा की दूरी समुद्र तट अधिक है और रॉकेट लॉंच दक्षिण की दिशा मे होता है और इसके लिए पहले इसे पूर्व दिशा मे छोड़ा जाता है फिर दक्षिण दिशा मे ताकि श्रीलंका मे गिरने का खतरा न रहे।

कुलसेकरपट्टिनम भूमध्य रेखा के नजदीक है व समुद्र तट के पास है ऐसे मे दक्षिण की ओर आसानी से छोड़ा जा सकेगा,इससे इंधन की बचत होगी,साथ ही तमिलनाडु के महेंद्रगिरि जहां हमारी तरल प्रणोदक प्रणाली है वहां से भी दूरी कम होने से परिवहन जल्दी होगा।।महेंद्रगिरि मे pslv के दूसरे और चौथे इंजन को असेंबल किया जाता है.।।

08:28 am | Admin


Comments

  • 0907,2023

    hemant

    nice


Recommend

Jd civils,Chhattisgarh, current affairs ,cgpsc preparation ,Current affairs in Hindi ,Online exam for cgpsc

Current Affairs Weekly of November in Hindi

Current affairs in Hindi ,Current affairs weekly

दोस्तों करेंट अफेयर्स किसी भी प्रतियोगी परीक्षा के लिए बहुत महत्वपूर्ण होता है हमारा लगातार प्रयास है कि आप तक महत्वपूर्ण घटनाओं तक ...

0
Jd civils,Chhattisgarh, current affairs ,cgpsc preparation ,Current affairs in Hindi ,Online exam for cgpsc

चंद्रयान-3 के प्रज्ञान रोवर ने चांद पर ऑक्सीजन खोजा,हाइड्रोजन की तलाश जारी

Chandrayaan-3

चंद्रयान-3 चांद की सतह पर नये नये राज खोल रहा है पहले प्रज्ञान ने चांद की सतह पर वॉक किया इसके बाद इसमे लगे पेलोड ChasTe ने वहाँ तापमान के बार...

0

Subscribe to our newsletter